Sahitya Sangeet

Literature Is The Almighty & Music Is Meditation

बासिन्दे (Compatriot)

 



आज इस ज़माने में,


तस्वीरों की अहमियत,


इंसानियत से कहीं ज्यादा है।


तुम दोनों को, जो --


अपने-अपने मुल्कों में ,


जो तुमने अपनी खानदानी ---


जागीर समझ बाँट लिया था ----


लकड़ी के चौखटों में , पूजे जाते


हो ;


यहां आना चाहिए-----


और देखना चाहिए ,-----


तुम्हारे अपने अपने मुल्कों के बासिन्दे -----


जिन्हें, तुमने बाँट लिया था !


किस क़दर इंसानियत को , भूखे


दरिंदे के तरह, चबा रहे हैं !


अपनी काली करतूतों से, कुरत कर


तुम्हारी सीखें भुना रहे हैं।


चौखटों में तुम्हें


टांग कर,


हार पहना रहे हैं।

--------

It happened and history is not able to heal this wound inflicted upon us by our own so-called leaders. Still, after so many painful years, we do not know who has bestowed the power upon them to divide our motherland. But one thing is for sure. Justice will prevail if not today, then tomorrow. Our generation will witness that.

 

Rabindra Nath Banerjee(Ranjan)